83: मुंबई की पाठशाला से निकला ये बल्लेबाज जिसने लॉर्ड्स में लहराया परचम- कहानी 'कर्नल' की

मुंबईकोअगरभारतीयक्रिकेटका'मक्का'कहाजाएतोगलतनहींहोगा.इसशहरनेभारतीयक्रिकेटकोकईऐसेखिलाड़ीदिएहैं, जिन्होंनेइसशहरसेसाथभारतीयक्रिकेटकोभीएकअलगमुकामपरपहुंचानेकाप्रयासकियाहै.इसशहरसेनिकलकरटीमइंडियाकेलिएक्रिकेटखेलनेवालेखिलाड़ियोंकीलिस्टकाफीलंबीहै.1983विश्वकपकी14सदस्यीयटीममेंसे5खिलाड़ीमुंबईसेथे.

19सालकीउम्रमेंदिलीपवेंगसरकरईरानीट्रॉफीमेंमुंबईकेलिएरेस्टऑफइंडियाटीमकेखिलाफखेलरहेथे.उसमुकाबलेमेंरेस्टऑफइंडियाटीममेंउनकेसामनेटीमइंडियाकीस्पिनचौकड़ीकेदोसदस्यबिशनसिंहबेदीऔरइरापल्लीप्रसन्नाकेसाथमदनलालसरीखेगेंदबाजथे.वेंगसरकरनेउसमुकाबलेमेंबिशनसिंहबेदीऔरइरापल्लीप्रसन्नाकोक्रीजसेबाहरनिकलकरकईबाउंड्रीलगाई.जिसकेबादरेडियोपरकमेंट्रीकररहेभारतीयक्रिकेटकेसबसेपहलेसुपरस्टारलालाअमरनाथनेकहा,'वेंगसरकरबिल्कुलकर्नलसीके नायडूकीतरहबल्लेबाजीकररहेहैं'.

जबदिलीपकोमिली'कर्नलरैंक'

कमेंट्रीमेंलालाअमरनाथकेयहबोलतेहीदिलीपवेंगसरकरकोअपनाएकनयानाममिलगयाथा. ईरानीट्रॉफीकेमुकाबलेनेभारतीयटीमकोमुंबईसेहीउभरताहुआएकनयासितारादेदियाथा. वेंगसरकरनेअपनेफर्स्टक्लासडेब्यूकेठीकएकसालबादहीभारतीयटीममेंजगहबनालीथी.20सालकीउम्रमेंहीकर्नलनेटीमइंडियाकेलिएटेस्टऔरवनडेडेब्यूकिया.

अपनीबल्लेबाजीसेदिलीपवेंगसरकरनेसभीकोकमउम्रमेंहीमुरीदबनालियाथा.छोटीउम्रसेहीक्रिकेटकीशुरुआतकरनेवालेवेंगसरकरअपनीबल्लेबाजीमेंभीमुंबईक्रिकेटपाठशालाकेहीछात्रथे.एकबारवेंगसरकरअगरविकेटपरकुछवक्तगुजारलेतेथेतोगेंदबाजोंकेलिएउनकाविकेटनिकालनाकाफीमुश्किलहोजाताथा.दिलीपवेंगसरकरने1983विश्वकपसेपहले1979केविश्वकपमेंभीभारतीयटीममेंजगहबनाईथी.

1983मेंचोटकामलाल

1983विश्वकपमेंदिलीपवेंगसरकरचोटकीवजहसेज्यादानहींखेलपाएथे.वेस्टइंडीजकेखिलाफओवलमेंखेलेगएचौथेलीगमुकाबलेमेंदिलीपवेस्टइंडीजकेतेजगेंदबाजमैल्कममार्शलकीएकसटीकबाउंसरसेचोटिलहोगएथे.इसमुकाबलेमेंभारतीयटीम283रनोंकापीछाकररहीथी,पहले2विकेटजल्दीगिरजानेकेबाददिलीपवेंगसरकरनंबर3केबल्लेबाजमोहिंदरअमरनाथकेसाथभारतीयपारीकोसंभालनेकोकोशिशकररहेथे,लेकिनमैल्कममार्शलकीएकबाउंसरउनकेजबड़ेपरआकरलगीजोउन्हेंमैदानसेबाहरकरनेकेलिएकाफीथी.दिलीपवेंगसरकरउसवक्त32रनबनाकरक्रीजपरथे.

उसचोटकाअसरइतनाथाकिवेंगसरकरकोजबड़ेमें7टांकेलगेऔरवहउसकेबादपूराविश्वकपअस्पतालसेहीफॉलोकरतेरहे.भारतकोउसमुकाबलेमेंहारकासामनाकरनापड़ाथा.इसमुकाबलेकेपहलेदिलीपवेंगसरकरनेऑस्ट्रेलियाकेखिलाफभीअंतिमग्यारहमेंजगहबनाईथी,लेकिनवहकुछखासकमालनहींकरसकेथे.ऑस्ट्रेलियाकेखिलाफकर्नलसिर्फ5रनहीबनापाएथे.दिलीपवेंगसरकरआजभीउसचोटकीवजहसेएकमलालजरूररहताहै.वेंगसरकरकेमुताबिकइसचोटकीवजहसेवोकपिलदेवकी175रनोंकीऐतिहासिकपारीकाआनंदमैदानपरहाजिररहकरनहींलेसके.

20सालमेंहीमिला भारतीयटीमकाब्लेजर

घरेलूक्रिकेटमेंशानदारप्रदर्शनकरदिलीपवेंगसरकरने20सालकीउम्रमेंहीभारतीयटीममेंजगहबनालीथी.वेंगसरकरनेटीमइंडियाकेलिएइंटरनेशनलडेब्यूऑकलैंडमेंन्यूजीलैंडकेखिलाफटेस्टमैचमेंकियाथा.वेंगसरकरनेभारतीयटीमकेलिएअपनापहलाकदमबतौरओपनिंगबल्लेबाजरखाथा,लेकिनसफलताहासिलनहींकरसके.कुछमुकाबलोंकेबादटेस्टऔरवनडेदोनोंफॉर्मेटमेंवेंगसरकरकोमध्यक्रममेंबल्लेबाजीकामौकादियागया,जिसकेबाददिलीपवेंगसरकरलगातारबल्लेसेसबकोप्रभावितकरतेरहे.

ओपनिंगमेंअसफलहोनेकेबाददिलीपवेंगसरकरनंबर5परबल्लेबाजीकरनेलगेऔरइसीनंबरपरबल्लेबाजीकरतेहुए17टेस्टमैचकेबादअपनापहलाशतकजड़ा.वेस्टइंडीजकेखिलाफईडनगार्डनमेंदूसरीपारीमें157रनोंकीशानदारपारीखेलीथी.उन्होंनेइसपारीमेंकप्तानसुनीलगावस्करकेसाथमिलकर344रनोंकीनाबादसाझेदारीकीथी.वेंगसरकरकेलिएअपनेकरियरकोआगेबढ़ानेकेलिएयहपारीकाफीथी.इसपारीकेबाददिलीपवेंगसरकरनेभारतीयटीमकेलिएढेरोंरनबटोरे.

...जबकर्नलबनेदेशकेहीरो

पाकिस्तानकेखिलाफ1979मेंफिरोजशाहकोटलास्टेडियममेंखेलीगई146रनोंकीपारीदिलीपवेंगसरकरकेकरियरमेंएकटर्निंगप्वाइंटसाबितहुईथी.पाकिस्तानकेखिलाफभारतीयटीमको390रनोंकेलक्ष्यकापीछाकरनाथा.इसलक्ष्यकापीछाकरनेमेंदिलीपकाबखूबी साथनिभायाथागुंडप्पाविश्वनाथऔरयशपालशर्माने.दोनोंनेदिलीपकेसाथमिलकरबेहतरीनसाझेदारियांकीं,लेकिनभारतीयटीमअंतमेंलक्ष्यसेमात्र26रनदूररहगईथी.वेंगसरकरकीइस146रनोंकीपारीनेभारतीयक्रिकेटमेंएकनएहीरोकादर्जाभीदेदियाथा.

लॉर्ड्सकेमैदानपरजबवेंगसरकर1979मेंपहलीबारबल्लेबाजीकरनेउतरेतोबिनाकोईरनजोड़ेआउटहोगए.शायदयहबातदिलीपवेंगसरकरकोचुभगईऔरफिरउन्होंनेलॉर्ड्सकोअपनेघरकेजैसाबनालिया.वेंगसरकरउसटेस्टकीदूसरीपारीमेंजबउतरेतोउन्होंनेशतकजड़ा.इसकेबादवेंगसरकरनेक्रिकेटकामक्काकहेजानेवालेलॉर्ड्समें1982और1986केदौरेपरभीइसमैदानमेंशतकलगाया.वेंगसरकरनेलॉर्ड्समेंलगातार3टेस्टमुकाबलोंमेंशतकजड़करअपनाएकनयानामभीहासिलकियाथा.लॉर्ड्स मेंशानदारप्रदर्शनकीबदौलतलोगउन्हें'लॉर्डऑफलॉर्ड्स'भीकहतेथे.

दिलीपवेंगसरकरनबर-1

टेस्टक्रिकेटकेसाथदिलीपवेंगसरकरनेवनडेमेंभीखराबशुरुआतकेबादलगाताररनबनानाजारीरखा.वेंगसरकरनेभारतीयटीमकेलिए3विश्वकप(1979,1983और1987)टूर्नामेंटमेंहिस्सालिया.विश्वविजेताकप्तानकपिलदेवकेबाद1987मेंकुछसमयकेलिएभारतीयटीमकेवनडेऔरटेस्टकप्तानभीबने.80केदशकमेंइंटरनेशनलक्रिकेटमेंदिलीपवेंगसरकरअपनीबल्लेबाजीसेभारतीयटीमकोकईमुकाबलोंमेंजीतदिलाचुकेथे,लेकिन80केदशककेअंतमेंबारीआईदिलीपवेंगसरकरकेटीमलीडकरनेकी.बतौरकप्तानवेंगसरकरज्यादासफलनहींरहे.दिलीपवेंगसरकरने1987विश्वकपकेबादभारतीयटीमकीकमानसंभालीथी.वेंगसरकरने18वनडेऔर10टेस्टमैचोंमेंटीमकीकप्तानी संभाली,जिसमेंभारतीयटीमकोसिर्फ8वनडेऔर2टेस्टमुकाबलोंमेंजीतमिली.

बतौरकप्तानभलेहीदिलीपवेंगसरकरकोकोईबड़ीसफलतानमिलीहो,लेकिनउसवक्तदिलीपवेंगसरकरअपनीबल्लेबाजीसेलंबेसमयतकदुनियाकेनंबर1बल्लेबाजबनेरहे.दिलीपवेंगसरकरनेअपनेटेस्टकरियरमें116मैचखेले.कर्नलने116टेस्टकी185पारियोंमें42.13कीऔसत से6868रनबनाएहैं.वेंगसरकरकेनामटेस्टमें17शतकऔर35अर्द्धशतकजड़े.इसकेअलावावनडेकरियरमेंभीवेंगसरकरनेशानदारप्रदर्शनकिया.वेंगसरकरने129वनडेमुकाबलोंमें34.73कीऔसतसे3508रनबनाए.हालांकिवनडेफॉर्मेटमेंवेंगसरकरकेबल्लेसेसिर्फ1हीशतकनिकला.

विजडन क्रिकेटरऑफदईयर

इंग्लैंडकेखिलाफ1984मेंपुणेमेंवेंगसरकरकेबल्लेसेवनडेफॉर्मेटमेंइकलौताशतकनिकला.दिलीपवेंगसरकरनेअपनीशानदारबल्लेबाजीकीबदौलतसाल1987मेंविजडन क्रिकेटरऑफदईयरकाअवॉर्डभीअपनेनामकिया.इसकेअलावा1983विश्वकपजीतसेपहलेसाल1981मेंदिलीपवेंगसरकरअर्जुनअवॉर्डअपनेनामकरचुकेथे.इसकेअलावासाल1987मेंमेंहीभारतसरकारद्वाराउन्हेंपद्मश्रीकासम्मानभीदियागया.आगेचलकरभारतीयक्रिकेटकंट्रोलबोर्डनेभीकर्नलसीकेनायडूलाइफटाइमअचीवमेंटअवॉर्डसेभीनवाजागया.इन्हींकर्नलसीकेनायडूकेनामपरपहलीबारलालाअमरनाथनेदिलीपवेंगसरकरकोकर्नलनामदियाथा.

अपनेक्रिकेटकरियरकेबाददिलीपवेंगसरकरनेबतौरक्रिकेटएडमिनिस्टेटरकाफीशानदारकामकिया.2003मेंदिलीपमुंबईक्रिकेटएसोसिएशनकेउपाध्यक्षचुनेगएथे.2002मेंदिलीपवेंगसरकरटैलेंटरिसोर्सविंगकेभीअध्यक्षबने.इसकेबादसाल2006मेंबतौरचयनसमितिअध्यक्षपदभारसंभालाथा.दिलीपवेंगसरकरनेहीपूर्वभारतीयकप्तानसौरवगांगुलीकीटीममेंवापसीकारास्ताखोलाथा.ग्रैगचैपलसेविवादकेबादलंबेवक्ततकसौरवगांगुलीकोटीममेंजगहनहींमिलीथी,लेकिनदिलीपवेंगसरकरकेइसपदकोसंभालतेहीसौरवगांगुलीने2006मेंटीमइंडियामेंअपनीवापसीकी.

संन्यासलेनेकेबाददिलीपवेंगसरकरनेयुवाखिलाड़ियोंकोतैयारकरनेकेलिएमुंबईमेंदोऔरएकपुणेमेंक्रिकेटएकेडमीभीशुरूकीहै.

जबकर्नलकोलगानीपड़ीदौड़

इनसभीबातोंकेअलावादिलीपवेंगसरकरकाएकऔरकिस्साकाफीप्रचिलितहै.साल1994मेंदिलीपवेंगसरकरमुंबईकेवानखेड़ेस्टेडियममेंरणजीट्रॉफीकाएकमैचदेखरहेथे.इसमुकाबलेकेदौरानकुछफैंसवेंगसरकरकोकाफीतंगकररहेथे,वेंगसरकरनेकुछवक्ततकउन्हेंपूरीतरहसेनजरअंदाजकिया,लेकिनजबवेंगसरकरकोलगाकिअबसीमापारहोचुकीहैउन्होंनेसभीकोउनकीस्टैंड्ससेउनकीओरछलांगलगातेहुएउन्हेंखदेड़लिया.वेंगसरकरकोरिटायरहुए2सालहोगएथेजिसकेबावजूदउन्होंनेसभीकोवानखेड़ेस्टेडियमकेगेटपरदबोचलियाएकझन्नाटेदारथप्पड़रशीदकरदिया.दिलीपवेंगसरकरअपनेखेलकेदिनोंमेंसबसेफिटखिलाड़ियोंमेंसेएकमानेजातेथे.

दिलीपवेंगसरकरकायोगदान1983विश्वकपजीतमेंभलेही2मुकाबलोंतकहीसीमितरहाहो,लेकिनउन्होंने1983विश्वकपसेअलगहटकरअपनेखेलकेजरिएटीमइंडियाऔरविश्वक्रिकेटमेंअपनीएकअलगपहचानबनाईथी.आजभीभारतीयफैंसवेंगसरकरकोउनकीलॉर्ड्समेंखेलीगईशानदारपारियोंकेलिएयादरखतेहैं.जिसवक्तवेस्टइंडीजकेगेंदबाजोंकाखौफअपनेचरमपरथाउसवक्तसुनीलगावस्करकेसाथवेंगसरकरउन्हींगेंदबाजोंकेलिएमुसीबतकेरूपमेंसामनेआए.

दिलीपवेंगसरकरनेअपनेइंटरनेशनलकरियरकाअंत1992विश्वकपसेठीकपहलेजनवरी-फरवरी1992मेंखेलीगईऑस्ट्रेलियाकेखिलाफटेस्टसीरीजसेकियाथा.वेंगसरकरनेअपनाआखिरीटेस्ट1992मेंऑस्ट्रेलियाकेखिलाफफरवरीमेंखेलाथा.इसमुकाबलेमेंवेंगसरकर2पारियों मेंसिर्फ5रनहीबनापाएथे.इसकेपहलेनवंबर1991मेंवेंगसरकरनेअपनाआखिरीवनडेमुकाबलादक्षिणअफ्रीकाकेखिलाफअपनेपसंदीदामैदानोंमेंसेएकफिरोजशाहकोटलामेंखेलाथा.