किसानों की खेतों को लील रहा तिलैया नदी

नवादा।नारदीगंजप्रखंडकेजफरागांवकेकिसानोंकीरैयतीभूमिकोतिलैयानदीलीलरहाहै।जिससेकिसानपरेशानहैं।तिलैयानदीमेंबाढ़आनेसेभूमिकाकटावहोरहाहै।उक्तगांवतिलैयानदीकेतटपरबसाहुआहै।तकरीबन4से5एकड़रैयतीभूमितिलैयानदीकीगोदमेंसमाचुकाहै।प्रत्येकवर्षनदीमेंबाढ़आतीहै,तबगांवकेकिसानकटावकीआशंकासेभयभीतरहतेहैं।किसानअपनीभूमिकेबचावकेलिएनदीकेकिनारेमिट्टीकाभीभरावकरतेहै,लेकिनप्रकृतिकेसामनेउनकाकोईचारानहींचलताहै।कटावतिलैया-राजगीररेलखंडपरगांवकेसमीपबनेपुलसेजफरामुसहरीतकहोरहाहै।प्रत्येकवर्षकटावजारीहै।ग्रामीणोंकाकहनाहैकियहीस्थितिरहीतोआनेवालेदिनोंमेंकईघरनदीमेंसमाजाएगा।फिलहालरैयतीभूमिनदीमेंजारहीहै।इसनदीमेंसाइडबालहोतातोसमस्याकासमाधानहोता।इसमामलेकोलेकरकईदफाअधिकारियोंवजनप्रतिनिधियोंकाध्यानाकर्षणकरायागया,लेकिनसमस्याजसकीतसबनीहुईहै।बतादेंकिएकसप्ताहपूर्वतिलैयानदीसमेतअन्यनदियोंमेंबाढ़कापानीआयाथा।इसवारअधिकवर्षाहोनेसेबाढ़कापानीनेकाफीक्षतिपहुंचाईहै।बच्चोंकेखेलनेकामैदानभीनदीकापानीबहालेगया।अबबच्चोकेलिएखेलमैदानभीनहींबचपायाहै।वहींकहीं-कहींकच्चीमार्गभीनदीकीधारामेंबहगयाहै।फिलहालग्रामीणनदीकेरौद्ररूपसेसकतेमेंहैं।कहतेहैंग्रामीण

-यहगांवतिलैयानदीकेकिनारेबसाहुआहै।नदीमेंबाढ़आनेसेरैयतीभूमिनदीमेंचलाजारहाहै।4से5एकड़भूमिनदीकीगोदमेंसमाचुकाहै।प्रत्येकवर्षयहीऐसाहोरहाहै।तिलैया-राजगीररेलखंडपरगांवकेसमीपनदीमेंपुलसेजफरामुसहरीतकसाइडबालकानिर्माणहोनेसेकिसानोंकीभूमिसुरक्षितहोसकतीहै।कईदफाअधिकारियोंवजनप्रतिनिधियोंकाध्यानाकर्षणकरानेकेबावजूदस्थितिजसकीतसहै।

-सुबोध¨सह,समाजसेवी,जफरा।फोटो--तिलैयानदीमेंआईबाढ़सेयहांकीरैयतीभूमिनदीमेंचलाजारहाहै।किसानोंकेसामनेबहुतबडीसमस्याउत्पन्नहोरहीहै।

-मोनू¨सह,जफरा।फोटो-14

-तिलैयानदीकायहीरूपरहातोकिसानकेसमक्षअनाजकेलालेपड़जाएंगे।बरसातकेसमयपानीआताहै,अपनीतेजधारामेंमिट्टीकोकटावकरलेजारहाहै।

-विपिन¨सह,जफरा।फोटो-12

-यहांकेकिसानोंकीभूमिनदीअपनेसाथलेबहाजारहाहै।किसीभीअधिकारीवजनप्रतिनिधियोंको¨चतानहींहै।कोईठोसपहलनहींकियाजारहाहै।

-सोनूकुमार,जफरा।फोटो-

-नदीमेंसाइडबालकानिर्माणहोनेसेकिसानोकीरैयतीभूमिनदीमेंजानेसेबचजाती।प्रत्येकवर्षनदीकीपानीसेतटबंधकाकटावहोरहाहै।किसानपरेशानहोहैं।

-गोपाल¨सह,जफरा।फोटो-13

-नदीसेगांवकीरैयतीभूमिकाकटावरोकनेकेलिएसरकारीस्तरपरठोसपहलआवश्यकहोगयाहै।किसानोंकेजीवनजीनेकाआधारबचानेकीजरूरतहै।

-पप्पु¨सह,जफरा।फोटो-15