Vivah Panchami 2021: आठ दिसंबर को है विवाह पंचमी, जानिए महत्व, मुहूर्त और पूजा विधान

VivahPanchami2021:धार्मिकग्रंथोंमेंविवाहपंचमीकोबेहदमहत्वपूर्णमानागयाहै.इसबारविवाहपंचमीबुधवारआठदिसंबर2021कोमनाईजाएगी.धार्मिकमान्यताअनुसारविवाहपंचमीश्रीरामऔरमातासीताकेविवाहकीवर्षगांठकेरूपमेंभारतकेसाथ-साथनेपालऔरदुनियाभरकेहिन्दूपरिवारोंमेंमनायाजाताहै.मान्यतायेभीहैकितुलसीदासजीनेरामचरितमानसभीइसीदिनपूरीकीथी.आजकेदिनसीता-रामकेमंदिरोंमेंभव्यआयोजनहोतेहैं.लोगविशेषपूजनऔरअनुष्ठानकरतेहैं.

विवाहपंचमीकामहत्व

मान्यताअनुसार,विवाहपंचमीकेदिनश्रीराम,मातासीताकीविधि-विधानसेकीगईपूजासेविवाहमेंआनेवालीबाधाएंदूरहोतीहैं.मनचाहेजीवनसाथीकीप्राप्तिहोतीहै.इसदिनअनुष्ठानसेविवाहितलोगोंकादांपत्यजीवनसुखमयबनताहै.विवाहपंचमीपरअयोध्या,नेपालमेंभव्यआयोजनहोतेहैं.

विवाहपंचमीशुभमुहूर्त

मार्गशीर्षशुक्लपक्षतिथिआरंभ-07दिसंबर2021कोरात11बजकर40मिनटसे

मार्गशीर्षशुक्लपक्षतिथिसमाप्त-08दिसंबर2021कोरात09बजकर25मिनटपर

पूजनविधि

-पंचमीतिथिकीसुबहउठकरस्नानकरेंऔरस्वच्छकपड़ेपहननेकेबादश्रीरामकाध्यानकरें.

-एकचौकीपरगंगाजलछिड़ककरशुद्धकरेंऔरआसनबिछाएं.

-चौकीपरभगवानराम,मातासीताकीप्रतिमास्थापितकरें.

-रामजीकोपीलेऔरसीताजीकोलालवस्त्रअर्पितकरें.

-दीपजलाकरतिलककरें,फल-फूलनैवेद्यअर्पितकरपूजाकरें.

-पूजाकरतेहुएबालकाण्डमेंदिएगएविवाहप्रसंगकापाठकरें.

-इसदिनरामचरितमानसकापाठकरनेसेसुख-शांतिबनीरहतीहै.

Disclaimer:यहांमुहैयासूचनासिर्फमान्यताओंऔरजानकारियोंपरआधारितहै.यहांयहबतानाजरूरीहैकिABPLive.comकिसीभीतरहकीमान्यता,जानकारीकीपुष्टिनहींकरताहै.किसीभीजानकारीयामान्यताकोअमलमेंलानेसेपहलेसंबंधितविशेषज्ञसेसलाहलें.